Menu

वेलो की घूमती बातें|

कुछ तो लोग लिखेंगे|

Powered By Google.

Blog posts : "mohabbat"

बारिशो

2016-12

बारिशो की निकी निकी बूंदों वाला दिल
चाहे जो सनम, वो है बड़ा संगदिल। 

जाती बहारो में रुसवा मेरा दिल 
सूखे पेड़ो की गुमसुम, छाओ में बैठा दिल॥ …

Read more

1 blog post