Menu

वेलो की घूमती बातें|

कुछ तो लोग लिखेंगे|

Powered By Google.

मर्ज की सही दवा

2016-12

 

कभी-कभी जो काम जिस तरह होता है, वह अच्छा नहीं लगता।
लेकिन बाद में वही अच्छा लगने लगता है। बडे बूढों का कहा याद आता है कि दवा कडवी भी हो तो पीना चाहिये। 
लेकिन यह तो पता होना चाहिये की मर्ज की सही दवा यही है।

Go Back

Comment